हरियाणा में 1857 की क्रांति

July 11, 2021

Q.-1857 की क्रांति की हरियाणा में शुरूआत

Ans.- 10 मई, 1857 (अम्बाला)

Q.-1857 की क्रांति में हरियाणा का केंद्र बिन्दू था

Ans.- अम्बाला

Q.-हरियाणा में 1857 की क्रांति को दिया गया नाम था

Ans.- चौदह की साल (क्योंकि उस दौरान विक्रम संवत 1914 था)

Q.- हरियाणा में चौदह की सालमुहावरा का अर्थ होता है

Ans.- सता की अवहेलना

Q.-1857 की क्रांति में अंग्रेजों द्वारा सबसे पहले फांसी दी गई थी

Ans.- झज्जर के नवाब अब्दुल रहमान खान को

Q.-1857 की क्रांति के दौरान अंग्रेजों द्वारा सबसे अन्त में फांसी दी गई थी

Ans.- बल्लभगढ़ के राजा नाहर सिंहको

Q.-1857 की क्रांति में अंग्रेजों का सर्वाधिक सहयोग करने वाली

रियासत थी

Ans.- तावडुरियासत

Q.-1857 की क्रांति के दौरान अंग्रेज सेनापति ऐनसन को कहाँ

मारा गया था

Ans.- पानीपत

Q.-1857 की क्रांति से पहले हरियाणा कहाँ का हिस्सा था

Ans.- उत्तर प्रदेश का

Q.-1857 की क्रांति के बाद हरियाणा को किस राज्य में मिला

दिया था

Ans.-पंजाब

Q.-1857 की क्रांति में रेवाड़ी शासक राव तुलाराम ने कहाँ जा

कर शरण ली थी

Ans.- अफगानिस्तान

Q.-1857 की क्रांति में अधिकतर सैनिक राज्य के किनकिन जिलों के थे

Ans.-हिसार, गुरुग्राम व रोहतक

Q.-1857 की क्रांति के दौरान अंग्रेज सेनापति हडसन किस किले

को देखकर चकित हो गया था

Ans.- महेन्द्रगढ़ का किला

Q.-1857 की क्रांति के समय हरियाणा का कौन वीर सेनानी मेरठ का नायब कोतवाल था

Ans.- रावकृष्णगोपाल

Q.-1857 की क्रांति में हांसी के किन लोगों को फांसी दी गई थी

Ans.-(1) मुनीर बेग, (2) लाला हुकमचंद

Q.-1857 के शहीदों के सम्मान में कहाँ 22 एकड़ में शहीदी

स्मारक बनाया गया है

Ans.-अम्बाला

Q.-1857 की क्रांति में किस राजा को उसके जन्मदिन पर फांसी

दी गई थी

Ans.- राजा नाहर सिंह(9 जनवरी, 1858)

Q.-झज्जर के नवाब अब्दुल रहमान खां को फांसी दी गई थी Ans.- 23 सितम्बर, 1857

Q.-फर्रूखनगर के नवाब अहमद अली खां को फांसी दी गई थी

Ans.- 3 जनवरी, 1858

Q.-झज्जर नवाब अब्दुल रहमान खान, फर्रूखनगर नवाब अहमद अली व बल्लभगढ़ के राजा नाहर सिंह को कहाँ फांसी दी गई थी

Ans.- चांदनी चौक (नई दिल्ली)

Q.- झज्जर नवाब, बल्लभगढ़ और फर्रूखनगर के नवाबों का

फांसी देने वाले शैन्य आयोग का अध्यक्ष कौन था तथा उस

दौरान जनरल कौन था

Ans.- चैम्बरलैन, जनरल शावर्ज

Q.- झज्जर, बल्लभगढ़ व फर्रुखनगर के नवाबों को फांसी दिये

जाने का विवरण किस पत्रिका में मिलता है

Ans.- चांद पत्रिका (नवम्बर 1928 के फांसी अंक)

Q.-चांद पत्रिका का लेखक

Ans.-विशम्भरनाथ कौशिक (अम्बाला)

Q.-1857 की क्रांति में दक्षिणी हरियाणा में अंग्रेजों का साथ किस रियासत ने दिया था

Ans.- जयपुर रियासत

Q.-1857 की क्रांति में पश्चिमी हरियाणा में अंग्रजो का साथ

किस रियासत ने दिया था

Ans.- बीकानेर रियासत

Q.-1857 की क्रांति में जनरल कोटलैण्ड की सेना जब हिसार व

सिरसा की तरफ जा रही थी तो रास्ते में मुकाबला किसने किया था

Ans.- नूर मौहम्मदखांने

Q.-1857 की क्रांति के दौरान किस नवाब को लाहौर में फांसी दी

गई थी

Ans.- बहादुरगढ़ के नवाब बहादुर जंगखा

Q.-1857 की क्रांति के दौरान अंग्रेजों का साथ देने वाली प्रमुख

रियासते

Ans.- तावडु, पटौदी, दुजाना, लोहारू, छछरौली, सांपला, कुंजपुराव करनाल व जींद

Q.-1857 की क्रांति में अग्रेजों के प्रमुख सहयोगी

Q.-लुहारू

Ans.- अमीनुद्दीन खां

Q.-दुजाना

Ans.- डुडे खां

Q.-करनाल

Ans.-अहमद अली खां

Q.-सांपला

Ans.-मिर्जा इलाही बक्स खां

Q.-पटौदी

Ans.-शोभासिंह

Q.-पटोदी

Ans.-तफी अली खां

Q.-1857 की क्रांति में हरियाणा के नेता

Q.-मेवात

Ans.- सद्दरूद्दीन (किसान नेता)

Q.-बल्लभगढ़

Ans.- राजा नाहर सिंह

Q.-फर्रुखनगर

Ans.- नवाब अहमद अली खां

Q.-झज्जर

Ans.- नवाब अब्दुल रहमान खां

Q.-रेवाड़ी

Ans.- राव तुलाराम

Q.-फरीदाबाद

Ans.- धानूसिंह(किसान नेता)

Q.-पानीपत

Ans.- इमाम अली कलन्दर

Q.-रांनिया / सिरसा

Ans.- नूर मौहम्मद खां

Q.-हिसार

Ans.- शाहजादा मुहम्मद आजम

Q.-हांसी

Ans.- हुकुमचंद (सरकारी कर्मचारी)

Q.-पलवल

Ans.- गफूर अली (व्यापरीनेता)

Q.-भटू

Ans.- मौहम्मद आजिम

Q.-1857 की क्रांति के दौरान हरियाणा से लगती रियासते हैं Ans.- नाभा व पटियाला

Q.-हरियाणा की किस रियासत के पटियाला की रियासत के साथ

सम्बध थे

Ans.-जींद  रियासत

Q.- जींद रियासत के किस रियासत के साथ कभी भी पारिवारिक

सम्बन्ध अच्छे नहीं रहे

Ans.-नाभा रियासत

Q.- हरियाणा शहीदी दिवस मनाया जाता है

Ans.-23 सितम्बर

Q.-महेन्द्रगढ़ की स्थापना

Ans.- 1861, पटियाला के राजा नरेन्द्र सिंह के पुत्र महेन्द्र सिंह के नाम पर की गई

Q.- भूतेश्वर मंदिर का निर्माण

Ans.- 1864.-1887 (जींद के राजा रूघवीर सिंह द्वारा)

Q.- प्रथम रेल लाईन की स्थापना

Ans.- 1873 (अंग्रेजों द्वारा दिल्ली से रेवाड़ी के बीच)

Q.-राज्य में प्रथम गौ शाला की स्थापना

Ans.- 24 दिसम्बर, 1878

(स्वामी दयानन्द सरस्वती द्वारा)

Q.-आर्य समाज की हरियाणा में प्रथम शाखा

Ans.- 1880 (स्वामी दयानन्द सरस्वती द्वारा)

Q.- अंग्रेजों द्वारा रेवाड़ी.-भटिंडा रेल लाईन का निर्माण

Ans.- 1881 (चालू.-1883)

Q.- महर्षि दयानन्द सरस्वती जी प्रथम बार हरियाणा आये

Ans.- 17 जुलाई, 1878 अम्बाला

Q.-कांग्रेस की प्रथम शाखा

Ans.-1886,अम्बाला

Q.-संस्थापक

Ans.- राय बहादुर मुरलीधर

Q.- सनातन धर्म की प्रथम शाखा

Ans.- 1886,झज्जर

Q.- हरियाणा में कांग्रेस की पहली जनसभा 12 अक्टूबर,

1888 (रोहतक) अध्यक्ष

Ans.- तुर्राबाज खां

Q.-खैर.-संदेश उर्दू साप्ताहिक समाचार

Ans.-पत्र का प्रकाशन 1889,राय बहादुर लाला मुरलीधर

Q.-1893 में अंग्रेजों द्वारा भिवानी नहर का निर्माण करवाया गया। मुरलीधर को रायबहादुर की उपाधि अंग्रेजों द्वारा

Ans.- 1898

Q.-अंग्रेजों द्वारा मुरलीधर को केसरहिन्द की उपाधि प्रदान

की गई

Ans.-1904

Q.-1907 में लाला लाजपत राय द्वारा राज्य स्तरीय स्वदेशी

आन्दोलन शुरू हुआ

Ans.- हिसार में

Q.-लाला लाजपत राय को देश से निकाला

Ans.- 9 मई, 1907(वायसराय.-मिन्टो)

Q.- आदेश दिया उपराज्यपाल डेंजिल इब्टसन (पंजाब) ने

लोहारू रियासत की स्थापना

Ans.- 1903 नवाब अहमद बक्स खां

Q.- अंतिम नवाव

Ans.- 1947 नवाब अमीउद्दीन खान

Q.- अल्ताफ हुसैन हाली को अंग्रेजों द्वारा शम्मुअ उलेमा की

उपाधि प्रदान की गई

Ans.- 1904

Q.-अंग्रेजों द्वारा शादीलाल को रायबहादुर की उपाधि प्रदान की

गई

Ans.-1909

Q.-सर छोटूराम की सेठ छाजूराम द्वारा आर्थिक सहायता की गई

Ans.-1903

Q.-भाखड़ा डैम की स्थापना

Ans.- 1908

Q.-अम्बाला के उपायुक्त के बंगले पर बम रखा गया

Ans.- 29 दिसम्बर, 1909

Q.-मार्ले मिण्टो सुधार

Ans.- 1909, (विरोध में शिव शम्मु का चिट्टा .- बालमुकुन्द गुप्त द्वारा)

Q.- नेस्ले उद्योग

Ans.- समालखा, 1912


admin