Major Areas of Priority

December 19, 2021

पंचवर्षीय योजनाओं मॆ प्राथमिकता के प्रमुख क्षेत्र

▪ पहली पंचवर्षीय योजना (1951-56)
– कृषि की प्राथमिकता।
▪1st Five Year Plan (1951-56)
– Priority of Agriculture.

▪दूसरी पंचवर्षीय योजना (1956-61)
– उद्योग क्षेत्र की प्राथमिकता।
▪2nd Five Year Plan (1956-61)
– Priority of Industry Sector.

▪तीसरी पंचवर्षीय योजना (1961-66)
– कृषि और उद्योग।
▪3rd Five Year Plan (1961–66)
– Agriculture and Industry.

▪चौथी पंचवर्षीय योजना (1969-74)
– न्याय के साथ गरीबी के विकास को हटाया।
▪4th Five Year Plan (1969-74)
– Removed the development of poverty with justice.

▪5 वीं पंचवर्षीय योजना (1974-79)
– गरीबी और आत्म निर्भरता को हटाया।
▪5th Five Year Plan (1974-79)
– Removed poverty and self-reliance.

▪6ठी पंचवर्षीय योजना (1980-85)
– पाँचवीं योजना के रूप में ही जोर दिया।
▪6th Five Year Plan (1980-85)
– Emphasized only as the Fifth Plan.

▪7 वीं पंचवर्षीय योजना (1985-90)
– फूड प्रोडक्शन, रोजगार, उत्पादकता
▪7th Five-Year Plan (1985–90)
– Food production, employment, productivity

▪8 वीं पंचवर्षीय योजना (1992-97)
– रोजगार सृजन, जनसंख्या का नियंत्रण।
▪8th Five Year Plan (1992-97)
– Job creation, control of population.

▪9 वीं पंचवर्षीय योजना (1997-02)
-7 प्रतिशत की विकास दर.
▪9th Five Year Plan (1997-02)
– 7 percent growth rate.

▪10 वीं पंचवर्षीय योजना (2002-07)
– स्व रोजगार और संसाधनों का विकास।
▪10th Five Year Plan (2002-07)
– Self employment and development of resources.

▪11 वीं पंचवर्षीय योजना (2007-12)
– व्यापक और तेजी से विकास।
▪11th Five Year Plan (2007-12)
– Comprehensive and rapid development.

▪12.वीं पंचवर्षीय योजना (2012-17)
-स्वास्थ्य, शिक्षा और स्वच्छता (समग्र विकास) का सुधार।
▪12th Five Year Plan (2012-17)
– Reform of health, education and sanitation (overall development).


admin